blogid : 317 postid : 288

खुद सिपाही बन जाओ, मोबाइल चोर को पकड़ लाओ

Posted On: 17 Feb, 2013 टेक्नोलोजी टी टी में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

इंसान अगर अपनी मदद खुद नहीं करता तो उसकी मदद कोई नहीं करता. आज के समय में अगर आपके पास मोबाइल है और आप उसे खुद संभालकर नहीं रख सकते तो यकीन मानिए आपके मोबाइल को दूसरा कोई भी नहीं संभाल सकता. मोबाइल आज हर इंसान की जरूरत बन चुके हैं. मोबाइल के बिना इंसान का एक पल भी गुजर पाना मानों नामुमकिन होता है. लेकिन कई बार परिस्थितियां इस तरह से धोखा देती हैं कि आपकी सबसे जरूरतमंद चीज यानि मोबाइल आपसे दूर हो जाता है. आपकी जरा सी लापरवाही आपका महंगे से महंगा मोबाइल फोन गुम करा सकती है. लेकिन अगर आप खुद सजग हैं और तकनीक के साथ कदम से कदम मिलाकर चलने के लिए तैयार हैं तो आपको कभी ज्यादा परेशान होने की जरूरत नहीं है.


Mobile Safety Apps: मोबाइल सेफ्टी एप्स

माना कि आज के समय में मोबाइल खो जाने के बाद उसे ढूंढ़ पाना एक टेढ़ी खीर होता है लेकिन तकनीक के इस युग में कई ऐसी तरकीबें भी हैं जो आपके खोए मोबाइल फोन को ढूंढ़ सकती हैं. ऐसी तरकीबें दरअसल एक तरह के एप्स होते हैं जो आपके मोबाइल फोन खोने या चोरी हो जाने की स्थिति में उसमें लगे नए सिम से उसे ढूंढ़ती हैं. इसके अलावा अगर आपका मोबाइल कहीं गुम हो गया है या चोरी हो गया है तो आप इन एप्स की मदद से अपने मोबाइल को लॉक कर सकते हैं.


Mobile Safety Software and Apps: मोबाइल सेफ्टी सॉफ्टवेयर और टिप्स

मोबाइल फोन चोरी होने की स्थिति में कई थेफ्ट एप्स एसएमएस के द्वारा आपके मोबाइल की लोकेशन और उसमें लगे नए सिम की जानकारी एक ऐसे नंबर तक पहुंचा देते हैं जिन्हें आपने एप्स को इंस्टॉल करते समय दिया होता है.


Periodic.phonelocator.mobi

पीरियॉडिक फोन लोकेटर की मदद से आप सिम बदले जाने की स्थिति में अपने मोबाइल के लोकेशन का पता लगा सकते हैं. यह एक फ्री एप है जो नोकिया में काम करता है.


कैस्परस्काई का सॉफ्टवेयर: www.kaspersky.com

कैस्परस्काई वेबसाइट मोबाइल सेफ्टी के सभी पैकेज उपलब्ध कराती है. यहां मौजूद सॉफ्टवेयर की मदद से आप ना सिर्फ अपने मोबाइल को वायरस से बचा सकते हैं बल्कि चोरी या गुम होने की सूरत में आप अपने मोबाइल के लोकेशन को भी पहचान सकते हैं. इसमें सिम चेंज के अलावा रिमोटली फोन ब्लॉक यानि मैसेज के द्वारा फोन को ब्लॉक करने की सुविधा और गूगल मैप पर जीपीएस की मदद से सटीक लोकेशन की सुविधा भी मिलती है.


एफ-सिक्योर- www.f-secure.com

एफ-सिक्योर एंटी वायरस बनाने वाली कंपनी है और यह अमूमन फ्री सॉफ्टवेयर प्रदान करती है. इनकी सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह एंटी वायरस एंड्रॉयड, नोकिया और विंडोज फोन सभी में काम करते हैं. यूं तो एफ सिक्योर एक फ्री प्रोडक्ट है लेकिन अगर आप और भी अच्छी सिक्योरिटी चाहते हैं तो आपको थोड़ी जेब ढीली करनी पड़ेगी यानि ज्यादा से ज्यादा 2500 रुपए. लेकिन हां, कीमत पर एस सिक्योर आपके मोबाइल को पूरी तरह सिक्योर कर देगा.


इनके अलावा और भी कई वेबसाइट हैं जहां से आप बेहतरीन सेफ्टी एप्स और एंटी वायरस डाउनलोड कर सकते हैं जैसे:


    हालांकि यहां हम आपको यह जरूर बता दें कि उपरोक्त सभी उपाय तभी कामयाब होंगे जब आप बहुत अच्छे नेट सेवी हों और तकनीक के साथ चलने का साहस रखते हों. मोबाइल खोने या चोरी होने की स्थिति में सबसे पहले पुलिस को सूचित करें और अपना नंबर ब्लॉक करा दें इसके साथ ही खुद पुलिस बन अपने मोबाइल को ढूंढ़ने का प्रयास करें.


    Post your Comments on: क्या आज महंगे मोबाइल फोन आपके लिए टेंशन का कारण बन जाते हैं?


    Tag: Mobile Safety Apps, Mobile Safety Tips in Hindi, Chori hua mobile kaise dhunde, How to search a stolen mobile, Mobile Anti Virus, Best Mobile Anti Virus Free, Free Mobile Antivirus, Free Mobile Safety Apps



    Tags:                 

    Rate this Article:

    1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
    Loading ... Loading ...

    3 प्रतिक्रिया

    • SocialTwist Tell-a-Friend

    Post a Comment

    CAPTCHA Image
    *

    Reset

    नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

    Clarinda के द्वारा
    May 29, 2016

    Thought it woudnl’t to give it a shot. I was right.

    parneeti के द्वारा
    February 18, 2013

    nice safty tips in hindi and very valueable too.. thanks jagranjunction

    अजित् के द्वारा
    February 18, 2013

    यह टिप्स तो आसान है लेकिन इन सबसे बहुत सरल क्विक हील (quick heel) का सॉफ्टवेयर है आसान फ्री और सबसे सुरक्षित


    topic of the week



    अन्य ब्लॉग

    latest from jagran